31 जनवरी 2011

५. बड़े गांव की छिद्दन बाई

गचम पेल सड़कों पर देखी
देख देख बुद्धि चकराई
किसी काम से दिल्ली आई
बड़े गांव की छिद्दन बाई|

सड़कों पर थी पेलम पेला
कारें जीप बसें और ठेला
चारों ओर दिख रहा उसको
जैसे लगा महादेव मेला
दोपहर रात शाम भुनसारे
वाहन देख नयन थक हारे
अविरल द्दष्टि लगी सड़क पर‌
हिली डुली न डर के मारे
पुरुष और नारी में अंतर‌
बड़ी देर तक समझ न पाई|

फुटपाथों पर छिटके छिटके
लिपे पुते से लोग लुगाई
अपने अपने कामदेव को
लेकर रति साथ में आई
कभी कभी तो ऐसा लगता
लैला मजनूं पिघल रहे हों
चपल रोमियों किसी जूलियट
को आँखों से निगल रहे हों
बड़ी सड़क के बड़े अजूबे
देख देख कर बहुत लजाई|

तभी अचानक किसी कार पर‌
कोई बड़ा डंपर चढ़ आया
जैसे लोहे के प्रहार से
टूटा बर्फ और छितराया
कोई गया सुरलोक किसी का
हाथ किसी का फूटा माथा
पतिहीना हुई कोई अभागी
हुआ कोई विकलांग अनाथा
देख अनोखे गज़ब तमाशे
चीखी रोई और चिल्लाई|

--प्रभु दयाल

15 टिप्‍पणियां:

  1. अद्भुत आँचलिकता से सुवासित अत्यंत मनोहारी नवगीत| परन्तु इस मजेदार नवगीत के रचियता का नाम पता नहीं चल रहा|

    उत्तर देंहटाएं
  2. पतिहीना हुई कोई अभागी
    हुआ कोई विकलांग अनाथा
    देख अनोखे गज़ब तमाशे
    चीखी रोई और चिल्लाई| ...मन को छूती हैं पंक्तियाँ..बेहद दर्दनाक !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. प्रभु दयाल जी इतने विशिष्ट नवगीत के लिए बहुत बहुत बधाई|

    उत्तर देंहटाएं
  4. नवीन सी चतुर्वेदी जी
    नवगीत पसंद आया लेखन सार्थक हुआ|आपको बहुत सारा धन्यवाद‌
    प्रभुदयाल‌

    उत्तर देंहटाएं
  5. धर्मेंन्द्र कुमार सिंह 'सज्जन'
    प्रतिक्रिया पर धन्यवाद‌
    प्रभुदयाल‌

    उत्तर देंहटाएं
  6. धर्मेंन्द्र कुमार सिंह 'सज्जन'
    प्रतिक्रिया पर धन्यवाद‌
    प्रभुदयाल‌

    उत्तर देंहटाएं
  7. के के यादवजी
    मुझे स्मरण है कि मैंने आपके किसी कहानी संग्रह पर समीक्षा लिखी थी
    जो गोवर्धन यादव के द्वारा भेजी थी|नवगीत पर‌ प्रतिक्रिया के लिये
    धन्यवाद प्रभुदयाल छिंदवाड़ा

    उत्तर देंहटाएं
  8. शारदा मोंगाजी नवगीत पर‌ प्रतिक्रिया के लिये
    धन्यवाद प्रभुदयाल छिंदवाड़ा

    उत्तर देंहटाएं
  9. र‌च‌नाजी नवगीत पर‌ प्रतिक्रिया के लिये
    धन्यवाद प्रभुदयाल छिंदवाड़ा

    उत्तर देंहटाएं
  10. गीता पंडित‌ जी
    नवगीत पर‌ प्रतिक्रिया के लिये
    धन्यवाद प्रभुदयाल छिंदवाड़ा

    उत्तर देंहटाएं
  11. सड़क का सटीक शब्द-चित्र प्रस्तुत करने हेतु साधुवाद.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों का हार्दिक स्वागत है। कृपया देवनागरी लिपि का ही प्रयोग करें।